Enter your keyword

Wednesday, 22 December 2010

आभासी दुनिया की अनमोल खुशियाँ..


बदलते वक़्त के साथ सब कुछ बदलता जाता है .रहने का तरीका ,खाने का तरीका ,त्यौहार मनाने का तरीका, मृत्यु  का  तरीका और जन्म लेने का तरीका, तो भला जन्म दिन मनाने का तरीका क्यों नहीं बदलेगा .अब देखिये ना जब छोटे बच्चे हुआ करते थे .ना तो टी वी था ना ही टेलीफ़ोन की इतनी सुविधा ,तो जन्म दिन हुआ तो घर में जितने सदस्य थे हैप्पी बर्थडे बोल दिया करते थे ,या कुछ करीबी रिश्तेदारों के कार्ड डाक से आ जाया करते थे .फिर कुछ मेहमानों को अगर बुलाया तो वो आकर बोल दिया करते थे. बहुत हुआ तो स्कूल  में टॉफी  ले जाओ तो क्लास वाले और अपनी टीचर बोल देगी. बस जी हो गया बर्थडे .फिर टेलीफ़ोन आम हुआ तो दोस्तों के फ़ोन आने लगे. कुछ बड़े हुए तो दोस्तों के साथ बर्थडे  मनाने लगे ,फिर और बड़े हुए तो बस जी घर में केक ले आओ काट लो खा लो ज्यादा से ज्यादा बाहर चले जाओ खाना खाने .पर अब देखिये टेक्नोलॉजी  ने जमीं आसमान  सब एक कर दिया है जन्म दिन- जिस दिन हुआ उस दिन ना तो फ़ोन बजना  बंद होता है ना एस एम एस आने,और नेट ऑन कर लिया तो बस ...............
आप भी सोच रहे होंगे कि ये अचानक क्या हो गया मुझे. क्यों जन्म दिन के पीछे पड  गई हूँ .चलिए बता देती हूँ .असल में अभी  २० दिसंबर को हमारा जन्म  दिन था.और इतनी  दुआएं मिलीं की झोली भर गई घर की चादरें, कम्बल सब निकालने पड़े फिर भी सम्भालना मुश्किल हो गया.वह गीत याद आ गया - 
ख़ुशी मिली इतनी कि मन में ना समाये  ,पलक बंद कर लूं कहीं छलक ही ना जाये..
बच्चों ने भी इतने हाई टेक कार्ड दिए कि मुँह से वाओ निकला और आँखों से दो आंसूं .पूरे कार्ड तो यहाँ दिखाना संभव नहीं पर झलकियाँ आप भी देखिये.


 
और अब ये कार्ड उन्होंने क्रिसमस ट्री  पर टांग दिए हैं.
अभी कुछ दिन पहले अभिषेक ने एक पोस्ट डाली थी, कि उनकी एक दोस्त उदास है क्योंकि वो अकेली है अपने बर्थडे पर.तो मैंने वहां यही लिखा कि आज के युग में आप अकेले हों यह थोडा मुश्किल है. भले ही कोई इस अंतर्जाल की दुनिया को आभासी कहे. पर यह आपको अकेला और उदास तो होने नहीं देता. जन्म दिन भी आपका ऐसे मनता है जैसे पूरा विश्व हैप्पी बर्थडे गा रहा हो.
यही हुआ हमारे साथ भी.  शुभकामनाओं का तांता एक दिन पहले से जो लगना शुरू  हुआ तो दो  दिन बाद तक जारी था .वो भी इतनी सुन्दर ,अपनत्व और प्यार से भरी शुभकामनाये की आँखें क्या मन तक भीग जाये. उस पर हिंदी ब्लॉगजगत के अपनत्व की तो बात ही क्या .(पाबला जी के आभार से) .उस पर  आपके मित्र यदि कवि या कवियत्री हैं तो  शुभकामनाये भी काव्यात्मक मिला करती हैं.एक बहुत ही प्यारी कवयित्री  मित्र  ने देखिये कितनी सुन्दर स्वरचित कविता  भेजी-
पढ़ते हुए मुझे कैसा एहसास हुआ होगा आप अंदाजा लगा सकते हैं .

प्रिय  शिखा  को उसके जन्मदिन पर .......................

आज के दिन
आसमां से  
उतरी  थी एक परी
माँ - बाबा के आँगन में 
छा गयीं थीं खुशियाँ 
और माँ - बाबा ने 
पकड़ा दिया था 
एक - एक पंख 
ख्वाब और ख्वाहिश का 
आज वो अपने 
विस्तृत आसमां में 
विचर  रही है दृढता से
बस दुआ है कि 
उसके पंखों की 
परवाज़ यूँ ही बनी रहे 
एक और नमूना यह देखिये -
पारिजात हो तेरे आंगन में कामधेनु तुम्हारी चेरी हो
तुम जियो हजारो साल ,जन्मदिन खुशगवार घनेरी हो

और ऐसे ही अनगिनत कविताओं से सजे ई कार्ड मिले. मेल और मेसेज से इनबॉक्स  भरा हुआ था .उस पर ये फेस बुक  तो गज़ब ही ढा देता है सारे भूले- बिछड़े दोस्तों की दुआएं मिल जाती हैं. कितना मीठा मीठा लगता है जब कोई स्नेह से मिठाई की मांग करता है, तो कोई पार्टी की. हालाँकि पता उन्हें भी है, कि ना उन्हें मिलने वाला है ना हम देने वाले हैं पर मतलब तो ख़ुशी से है ना. तो मुँह ना सही मन तो मीठा हो ही जाता है. और बहुत से मित्र ऐसे होते हैं जो वैसे तो रोज़ हाल चाल पूछते हैं पर खास दिन भूल जाते हैं तो ऐसे मित्रों को हम ही कह देते हैं कि जी आज हमारा अवतरण हुआ था इस धरती पर तो आशीर्वाद दे दीजिये. अब क्या है ना दुआओं से तो कभी पेट भरता नहीं और शुभचिंतकों की शुभकामनाये बहुत जरुरी हैं हमारे लिए. तो हम मांग कर भी ले लिया करते हैं. और  वे बेचारे मित्र शर्मिन्दा से होकर  हर प्रोफाइल पर जाकर विश करते हैं ..यानी "आस्क वन गेट फौर फ्री " मजा  आ जाता है .
खैर इतनी बड़ी राम कहानी सुनाने का मकसद सिर्फ इतना था कि हम तहे दिल से सबका शुक्रिया कहना चाहते थे जो "थैंक  यू" वाले दो  शब्दों में कहना  हमें गवारा ना हुआ.आप सभी को जिसने भी अपने अमूल्य शब्दों से हमें विश किया,या जिसने नहीं किया ,जो भूल गए या जो अभी यहाँ टिप्पणी में करेंगे ....हमारा बहुत बहुत शुक्रिया .दिल से आभार .
Thank you all very much You have made my day.

73 comments:

  1. हमने भी विश किया था...
    और आभासी दुनिया का क्या मतलब है ??? अरे हम लोग आभासी नहीं हैं...आईना में हम लोग का फोटू दिखता है सच्ची....
    और दीदी मिठाई अभी तक उडती उडती नहीं पहुंची है...ऐसे काम नहीं चलेगा...

    ReplyDelete
  2. आदरणीय शिखा दीदी
    नमस्कार !
    ..........जन्मदिन पर ढेर सारी शुभकामनायें.

    ReplyDelete
  3. और हाँ अच्छे से रहिएगा..सुने हैं, वहां ठंडी बहुत ज्यादा हो गयी है....
    वहां तो क्रिसमस की तैयारी भी जोर-शोर से हो रही होगी...
    क्रिसमस की भी ढेर सारी बधाईयाँ...

    ReplyDelete
  4. आपको जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं...
    सच यह आभासी दुनिया भी खुशियां देती है...
    बहुत सुन्दर कविता है...

    ReplyDelete
  5. wow.....cards are too sweet...bahut achha laga...:)

    वैसे दीदी मेरे बर्थडे पे भी मेरा बुरा हाल था..पचास साठ से ऊपर फेसबुक वाल मेसेज और न जाने कितने ई-मेल और एस.एम्.एस आये थे...फोन भी आये थे कई..
    अच्छा लगता है,
    आपने तो उन बातों का भी जिक्र कर दिया जो सबसे अच्छा लगता था..डाक से बर्थडे ग्रीटिंग्स पाना या फिर जन्मदिन पर चिट्ठी पाना :)

    वैसे आभासी दुनिया मानने वाले पे निर्भर करता है, मैं तो नहीं मानता सोशल नेटवर्किंग साईट(जिसमे ब्लॉग भी आता है) को आभासी :)
    सच्चे रिश्ते बनते हैं तो आभासी दुनिया कैसे? :)

    ReplyDelete
  6. फिर से विश कर देता हूँ हैप्पी बर्थडे...जस्ट फोर फन :)

    ReplyDelete
  7. आभासी दुनिया में भी सुख का आभास हो सकता है । यही ब्लोगिंग की खूबी है।

    आपको एक बार फिर जन्मदिन की बधाई ।

    ReplyDelete
  8. शिखा जी, हमें आपकी पोस्‍ट से ही मालूम हुआ कि आपका जन्‍मदिन 20 को था। आपको शुभकामनाएं। हाँ एक बात और कि यह आभासी दुनिया क्‍यों कहलाने लगी है? हम तो सब जीते-जागते लोग हैं, एक दूसरे को जान भी रहे हैं। आभासी तो भूत-प्रेत होते हैं।

    ReplyDelete
  9. मेरी भी अनंत शुभकामनाएं.... :)

    ReplyDelete
  10. bahut bahut badhaiii...kya hua jo main der se aaee....

    ReplyDelete
  11. यही जीवन की खुशिया हैं शिखा ...इनके बिना जीवन नीरस हो जाता है ! बरसों तुम्हे यह खुशियाँ मिलती रहें ! हार्दिक शुभकामनायें !

    ReplyDelete
  12. चलिए देर से ही सही जन्म दिन की शुभकामनाएं मेरे व् मेरे परिवार की तरफ से. बदलना तो संसार का नियम है और समय के साथ चलना हमारी नियति.

    ReplyDelete
  13. आभाषी दुनिया ने दूरियों को कम करने का काम किया है. पोस्ट अच्छी है.

    ReplyDelete
  14. आदरणीय शिखा जी
    सादर प्रणाम
    आपको जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनायें ........दो पंक्तियाँ भेंट कर रहा हूँ ..कबूल करें
    जिन्दगी फूलों की सेज है , इससे कोई फूल गिरने न पाए
    तुम सदा मुस्कराते रहो , तुम्हें कोई गम छु न पाए
    पुनः शुभकामनायें

    ReplyDelete
  15. मुझे तो सबसे अच्छा कार्ड में आप की फोटो लगी वाह :))))

    आप की कितनी भी उम्र हो जाये जन्मदिन पर शुभकामनाये मिलने पर एक अलग ही आनन्द ख़ुशी होती है और यदि अपने बच्चे कुछ करे तो फिर उसका तो कोई मोल नहीं होता है |

    ReplyDelete
  16. एक बार पुनः जन्मदिन की शुभकामनाएँ!

    ReplyDelete
  17. ढेरों शुभ-कामनाएं शिखा जी!....आप को अपने इच्छित लक्ष्य की प्राप्ति हो!

    ReplyDelete
  18. शुभकामनाये तो हमेशा ही मानव की प्रिय वस्तु रही है कम से कम लेने के लिए . मेरी तरफ से एक बार फिर जन्म दिन की लख लख शुभकामनाये .बच्चो का जन्म दिन कार्ड देखकर मज़ा आ गया . कविताये बहुत अच्छी और सटीक लगी . लेकिन अब बर्थडे केक का इंतजार है .

    ReplyDelete
  19. वाह , धन्यवाद देने का तरीका भी बहुत खूब , कार्डस बहुत पसंद आये ...तुम्हारी पिक्चर वाला खास तौर पर ...वेदांत का कार्ड नहीं दिखा ..अलग विंडो में देखा , तब पता चला की वो तुम्हारे बेटे का है :) :) ..

    एक बार फिर से शुभकामनायें ...यूँ ही तुम्हारी झोली खुशियों से भरी रहे ...

    इस धन्यवाद के लिए धन्यवाद कहूँ ????????

    ReplyDelete
  20. कवियत्री---- कवयित्री ...कर दो ...:):):)

    ReplyDelete
  21. Belated Happy Birthday!
    Loved what you wrote!

    ReplyDelete
  22. आप जहाँ भी रहें,आबाद रहें,
    वैभव, सुख-शांति साथ रहे,
    पुनीत हृदय से कहता हू,
    जग के खुशियां पास रहे।
    Happy birth day to you Shikha ji.

    ReplyDelete
  23. आपको एक बार और बधाई, जन्मदिवस की।

    ReplyDelete
  24. बहुत ही प्यारी सी पोस्ट...बच्चों के बनाए ख़ूबसूरत कार्ड्स बेहद सुन्दर हैं.
    एक बार फिर से जन्मदिन की अनंत शुभकामनाएं

    ReplyDelete
  25. हम तो देर से आये ... शुभकामनायें

    ReplyDelete
  26. आज का कमेन्ट हम दोनों दोस्तों की तरफ से एक ही है.... सो स्वीट:
    आपकी पोस्ट भी
    आप भी
    आपके पोस्ट में लिखी गई बातें भी
    और अबव ऑल
    सारे अपनों का प्यार भी..

    ReplyDelete
  27. शिखा जी जन्मदिन की बहुत बहुत बधाई..... बहुत सुन्दर लगी ये पोस्ट....कार्ड बहुत सुन्दर....

    ReplyDelete
  28. हमने विश किया था ...?
    अभी कर लेते हैं ...
    आपको जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं..

    ReplyDelete
  29. दो शब्द और........

    दोस्तों की दुआओं में

    हो वो असर कि

    जिंदगी भर किसी चीज की

    कमी ना आये ,

    खुशियों की झोली

    भर जाये इतनी कि

    गिनी ना जाये........

    ReplyDelete
  30. hame aapka b'day aaj hi pata chala der se wish karne ko maf kijiyega
    happy b'day
    aapko bhahut sari subhkamnaye
    deepti sharma

    ReplyDelete
  31. आपको जन्म दिन की हार्दिक बधाई

    रिश्ते भले ही आभासी है , मगर उनमे होने का भाव शामिल है

    ReplyDelete
  32. रामकहानी अच्छी भी थी और लजीज भी।
    हैप्पी बर्थ-डे हमारी तरफ से भी। थोड़ी बहुत तो गुंजाइश होगी ही हमारी विश की भी।

    ReplyDelete
  33. अरे अरे यह लो जी ताजी ताजी जन्म दिन की बधाई ओर हम सब की ढेर सी शुभकामनाऎ, अब हमारे हिस्से का क्रीम वाला केक अलग रख देना, जब भी मोका मिला जरुर खायेगे, धन्यवाद

    ReplyDelete
  34. ये बात तो सच्ची कही आपने. चाहे जितना आभासी लगे ये अंतर्जाल का संसार, पर खुशियाँ तो इससे मिलती ही हैं. आपको जन्मदिन पर बच्चों ने इतने क्रिएटिव कार्ड दिए कि देखकर जी खुश हो गया. आप बहुत भाग्यशाली हैं :-)

    ReplyDelete
  35. चलो फिर से एक बार बढ़ायी दे देते हैं ...
    कविता भी अच्छी लगी और कार्ड तो बहुत ही क्रियेटिव हैं ..बच्चों के इस प्यार और स्नेह की कहाँ कीमत होती है !

    ReplyDelete
  36. with respect and with regards shikhji pls accept my birthday wish with delay condon application

    ReplyDelete
  37. शिखा जी जन्मदिन पर ढेर सारी शुभकामनायें.

    ReplyDelete
  38. ये प्रेम प्यार बना रहे । एक बार फिर से बधाईयाँ और आशीर्वाद।

    ReplyDelete
  39. शिखा जी
    भई हम तो बिजी थे पिछले दिनों इसलिए पता ही नहीं चला की कब आपका जन्मदिन निकल गया ...........अगर आज ये पोस्ट रह जाती तो पता ही नहीं चलता ............चलो शुक्र है ज्यादा दिन नहीं निकले सिर्फ ३ दिन ही तो देरी हुई है अभी छठी तो मनी नहीं ना उससे पहले ही विश कर रही हूँ .........हाहाहा ..........देर से ही सही.............आपको जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं .............जीवन खुशियों से भरपूर हो ..

    ReplyDelete
  40. ... shubh-shubh-shubhskaamanaayen !!!

    ReplyDelete
  41. meri oar se bhi apko janmdin ki bahut-bahut hardik shubhkamnayenSHIKHAJI!

    ReplyDelete
  42. शिखा जी, बधाई जरा देर से दे रहीं हूं स्‍वीकार करें ... हमेशा खुशियां आपके आंगन में यूं ही चहकती रहें ....।

    ReplyDelete
  43. शिखा जी ... जन्मदिन की बहुत बहुत बहुत सारी शुभकामनायें ! आपको आभासी और सच्ची, दोनों खुशियाँ मिलती रहे ...

    ReplyDelete
  44. यही विकासवाद है । रोचक ।

    ReplyDelete
  45. sahi bat he , is abhasi duniya ka kya matlab he
    ye sab hakikat he aaj ki sachhai,

    happy B"Day once again,

    ReplyDelete
  46. जन्मदिन की शुभकामनाएं शिखा जी...
    आपकी इस पोस्ट के बीच एक बात ये भी सच है कि जो खुशी बच्चों के कार्ड्स में छिपी है, वो कोई और दे भी नहीं सकता...जिसे हम सब महसूस ज़रूर कर सकते हैं.

    ReplyDelete
  47. जन्मदिन पर ढेर सारी शुभकामनायें

    ReplyDelete
  48. फ़िर से जन्मदिन की खूब सारी बधाईयां!

    ReplyDelete
  49. जन्म दिन पर आपको खुशियों की सौगात मिलें
    सुख से सारा जीवन महके समृद्धि के दीप जलें

    ReplyDelete
  50. main gayab kya hua aapne bday mana liya..bahut galat baat hai ...bahut galat..main jo hun naraj hun..aur alag se party chahiye mere ko ..han nahi to... ye koi bat hoti hai...:( belated happy bday di.... :)

    ReplyDelete
  51. हम तो सब जगह देर से ही पहुँचते है (आभासी दुनिया में )देर से ही सही शुभकामनाये और अनेक आशीर्वाद |

    ReplyDelete
  52. आपको जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं.

    ReplyDelete
  53. Pataa chalta ki kuchh din pahle
    aapka shubh janm din tha to cake
    kaa apna tukda khaane main London
    awashya hee aataa . Aapko janm din
    par dheron badhaaeeyan aur shubh
    kamnaayen .

    ReplyDelete
  54. आदरणीय शिखाजी,

    "मेर्री क्रिसमस" की बहुत बहुत शुभकामनाये !

    मेरी नई पोस्ट "जानिए पासपोर्ट बनवाने के लिए हर जरूरी बात" पर आपका स्वागत है

    ReplyDelete
  55. सालगिरह की शुभकामनायें, मैम...विलंब से ही सही!

    ReplyDelete
  56. आपको एवं आपके परिवार को क्रिसमस की हार्दिक शुभकामनायें !

    ReplyDelete
  57. क्रिसमस की शांति उल्लास और मेलप्रेम के
    आशीषमय उजास से
    आलोकित हो जीवन की हर दिशा
    क्रिसमस के आनंद से सुवासित हो
    जीवन का हर पथ.

    आपको सपरिवार क्रिसमस की ढेरों शुभ कामनाएं

    सादर
    डोरोथी

    ReplyDelete
  58. आपकी अति उत्तम रचना कल के साप्ताहिक चर्चा मंच पर सुशोभित हो रही है । कल (27-12-20210) के चर्चा मंच पर आकर अपने विचारों से अवगत कराइयेगा और हमारा हौसला बढाइयेगा।

    http://charchamanch.uchcharan.com

    ReplyDelete
  59. बहुत ही सुंदर.

    ReplyDelete
  60. वाह! क्या बात है, बहुत सुन्दर!आपको जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं...

    ReplyDelete
  61. abhasi wabhasi ka pata nahi, hamne dil se sirf teen word likhe the......."happy birth day"...:)

    waise aapne itna sab kuchh likh diya...lekin return gift ke baare me kuchh nahi kaha.......ye to badi na-insaafi hai.."


    waise aapke greetings card aur upar se uspe aapka chehra dono kahar dha rahe hain.......yani achchhe hain...:D

    ReplyDelete
  62. भावपूर्ण अभिव्यक्ति। और....तुम जीओ हजारों साल साल के दिन हों कईं हजार।

    ReplyDelete
  63. जन्मदिन की ढेर सारी बधाइयाँ...
    बहुत ही सुन्दर ब्लॉग लिखती हैं आप|
    शुभकामनाएं

    ReplyDelete
  64. शिखा जी,
    जन्म दिन की अनंत शुभ कामनाएं !

    "तुम खिलो पूर्णिमा के सपन की तरह,
    खुशबुओं में नहाओ चमन की तरह
    अंत हो ना तेरे -विस्तार का
    फ़ैल जाओ जहाँ में गगन की तरह !"
    पंक्तियों में तुम का संबोधन स्नेह दर्शित है अन्यथा न लें !

    -ज्ञानचंद मर्मज्ञ

    ReplyDelete
  65. अब तो इन सारे प्यारे यारे न्यारे लोगों को भी शुक्रिया ,शुभकामनाएं देने का पल है जिन्होंने अपने ब्लॉग जगत की एक नामचीन हस्ती को दिल से याद किया ,शुभकामनाएं दी -साथ ही आपको आपके इस विशाल शुभचिंतक टोली /फैन(अपुन सम्मिलित ) को नए वर्ष की मंगलमय कामनाएं !

    ReplyDelete
  66. जन्मदिन पर ढेर सारी शुभकामनायें

    ReplyDelete
  67. देर से भी
    दूर से भी
    जायेंगी भी दूर तक ये
    खुशियां हैं जन्‍मदिन की
    पल पल खिलखिलायेंगी
    रचना में सर्जना का
    अनमोल उत्‍साह जगायेंगी
    चाहे प्‍याजो की जवानी
    फीकी पड़ जाये
    पर जन्‍मदिन की
    खुशियां भुलाई न जायेंगी।

    ReplyDelete
  68. अन्यत्र व्यस्त था ..सो विलंबित हूँ ! '' जन्मदिन की अनेकानेक शुभकामनाएं '' !!
    ..... और यह भी कह रहा हूँ कि सोद्देश्य दुखाना कभी मेरा लक्ष्य नहीं था इस हेतु किसी बात को अन्यथा न लेने के बड़प्पन की सहज सी उम्मीद आपसे जरूर रही है ! पुनः शुभकामनाएं कि आपकी लेखनी सामर्थ्यशाली हो !

    ReplyDelete

पसंदीदा पोस्ट्स

ईमेल से जुड़ें

संपर्क

Name

Email *

Message *